71 देशों के राजनयिक पहुंचे प्रयागराज कुंभ

सरकार ने विदेशियों को लुभाने के लिए राजनयिकों को दिखाई कुंभ की तैयारियां.

प्रयागराज: उत्तर प्रदेश सरकार 15 जनवरी से शुरू हो रहे प्रयागराज कुंभ की अंतरराष्ट्रीय ब्रांडिंग में जुट गई है. कुंभ आयोजन के इस प्रचार-प्रसार और ब्रांडिंग में यूपी सरकार को केंद्र सरकार का भी सहयोग प्राप्त है. इस क्रम में शनिवार को 71 देशों के राजनयिक कुंभ की तैयारियां देखने प्रयागराज पहुंचे. सरकार ने 192 देशों के राजनयिकों को आमंत्रित किया था. हालांकि इस आयोजन में कुल 71 देशों के प्रतिनिधि शामिल हुए.

केंद्रीय मंत्री जनरल वीके सिंह की अगुवाई में 71 देशों के राजनयिकों का प्रतिनिधि मंडल शनिवार को प्रयागराज के बमरौली हवाई अड्डे पहुंचा, जहां यूपी सरकार के कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने सभी का स्वागत किया.

बमरौली एयर पोर्ट पर राजनयिकों के स्वागत में सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किए गए. इसके बाद विशेष सुरक्षा के बीच सभी को सड़क मार्ग से गंगा यमुना के संगम तट पर ले जाया गया. रास्ते में जगह-जगह स्कूली बच्चों ने पुष्पवर्षा कर राजनयिकों का शानदार स्वागत किया.

संगम तट पर सभी राजनयिकों को प्रजेंटेशन और प्रदर्शनी के जरिये दिखाया गया कि कैसे संगम की दूर दूर तक फैली रेत में एक अस्थायी शहर बसाया जाता है. उन्हें कुंभ आयोजन की विभिन्न तैयारियों के बारे में अवगत कराया गया.

सरकार का मकसद है कि कुंभ की तैयारियां देखने वाले सभी राजनयिक अपने-अपने देश के नागरिकों को एडवाइजरी जारी करेंगे और उन्हें कुंभ आने के लिए प्रेरित करेंगे.

संगम तट पर भव्य स्वागत के बाद राजनयिकों को कस्तूरबा जलयान के जरिये गंगा पार अरैल घाट की तरफ ले जाया गया. यहां पर सभी देशों के झंडे लगाए गए थे. सभी राजनयिकों ने एक साथ अपने अपने देश का झंडा फहराया.

वैसे इस बार तीर्थराज प्रयाग में अर्द्ध कुंभ ही है, लेकिन सरकार ने इसे कुंभ के रूप में मनाने का फैसला किया है. कुंभ के प्रचार-प्रसार के लिए देश भर में पोस्टर लगाए गए हैं. इसके लिए ‘दिल्ली चलो’ की तर्ज पर ‘चलो कुंभ चलें’ नारा भी दिया है.

जनरल वीके सिंह ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की परिकल्पना है कि विदेशी राजनयिकों को प्रयागराज में आयोजित होने वाले कुंभ की तैयारियों से अवगत कराया जाए. इससे वे सभी अपने-अपने देशों में कुंभ में प्रचार-प्रसार कर सकेंगे ताकि ज़्यादा से ज़्यादा लोग यहां आ सकें.

उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि तमाम देशों के राजनयिकों के लिए यह बेहद अनूठा अनुभव रहा. वे सभी कुंभ की तैयारियां देखकर खुश हैं.

प्रयागराज में कुंभ मेला की शुरुआत 15 जनवरी से हो रही है। यह मार्च के पहले हफ्ते तक चलेगा. सब देशों के राजनयिक झंडारोहण के पश्चात वापस दिल्ली लौट गए.

रविवार, 16 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी प्रयागराज पहुंच रहे हैं. यहां पर वे कुंभ से जुड़े 3500 करोड़ रुपये के विकास कार्यों का शुभारंभ करेंगे. इसके बाद वे झूसी क्षेत्र के अंदावा में एक जनसभा को संबोधित करेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सब्सक्राइब ' गंभीर समाचार ' न्यूज़लेटर