जाफर का फर्स्ट क्लास क्रिकेट करियर

नई दिल्ली : भारतीय क्रिकेट टीम के लिए 31 टेस्ट और दो वनडे मैच खेल चुके ओपनर बल्लेबाज वसीम जाफर की रनों की भूख अब तक बरकरार है। 40 वर्ष के वसीम जाफर ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में अपना 55वां शतक पूरा किया। रणजी ट्रॉफी एलीट ग्रुप ए के मैच में उन्होंने विदर्भ के लिए खेलते हुए गुजरात के खिलाफ 126 रन की पारी खेली। जाफर ने 176 गेंदों पर 13 चौके और दो छक्के लगाए।

जाफर का फर्स्ट क्लास क्रिकेट करियर

वसीम जाफर का फर्स्ट क्लास क्रिकेट करियर बेहद शानदार रहा है। इस मैच से पहले तक अपने क्रिकेट करियर में उन्होंने 247 फर्स्ट क्लास मैच खेले हैं जिसमें उन्होंने 50.32 की औसत से 18,471 रन बनाए हैं। फर्स्ट क्लास क्रिकेट में उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर नाबाद 314 रन है। इतने मैचों में उनके नाम 54 शतक थे और अब उन्होंने एक शतक और लगा दिया है। वहीं 102 लिस्ट एक मैचों में उन्होंने 44.89 की औसत से 4310 रन बनाए हैं। लिस्ट ए में नाबाद 178 रन उनकी सर्वश्रेष्ठ पारी है। रणजी ट्रॉफी मैच में वो सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। इस वर्ष नवंबर में उन्होंने अमोल मजूमदार को पीछे छोड़ते हुए रणजी क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने की उपलब्धि अपने नाम की थी। वो ऐसे पहले बल्लेबाज हैं जिनके नाम पर रणजी क्रिकेट में 11000 रन हैं।

वसीम जाफर का अंतरराष्ट्रीय करियर

वसीम जाफर का अंतरराष्ट्रीय करियर काफी छोटा रहा। उन्होंने भारत के लिए 31 टेस्ट मैचों में पांच शतक की मदद से 1944 रन बनाए थे। उनका औसत 34.10 का रहा। टेस्ट में उनका बेस्ट स्कोर 212 था। वर्ष 2000 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मुंबई में टेस्ट डेब्यू करने वाले जाफर ने अपना आखिरी टेस्ट मैच वर्ष 2008 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ कानपुर में खेला था। जाफर के वनडे करियर की बात करें तो उन्हें भारत की तरफ से सिर्फ दो वनडे मैच खेलने का मौका मिला। इन दो मैचों में उन्होंने पांच की औसत से दस रन बनाए। ये दोनों वनडे मैच उन्होंने वर्ष 2006 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ डरबन और पोर्ट एलिजाबेथ में खेला था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सब्सक्राइब ' गंभीर समाचार ' न्यूज़लेटर