नई दिल्ली : चुनाव आयोग के लिए इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन, ईवीएम बनाने वाली सरकारी कंपनी इलेक्ट्रॉनिक कारपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड, ईसीआईएल ने कहा है कि सैयद शुजा नाम का कोई कर्मचारी उसके यहां काम नहीं करता था। कंपनी ने इस बात से इनकार किया है कि ईवीएम हैक करने का दावा करने वाला कथित साइबर विशेषज्ञ सैयद शुजा 2009 से 2014 के बीच कंपनी के साथ किसी भी भूमिका में जुड़ा हुआ था।

ईसीआईएल के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक रियर एडमिरल संजय चौबे ने शुजा के दावे को खारिज किया। शुजा ने अमेरिका से स्काइप के जरिए प्रेस कांफ्रेंस करके लंदन में कुछ पत्रकारों को ईवीएम हैक करने की जानकारी दी थी। उसने कहा था कि वह 2009 से 2014 के बीच ईसीआईएल के लिए काम करता था। पर मंगलवार को कंपनी ने चुनाव आयोग को बताया है कि शुजा कभी भी उसके यहां काम नहीं करता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सब्सक्राइब ' गंभीर समाचार ' न्यूज़लेटर